बुधवार, 17 जून 2009

इन्हें चाहिए जींस वाली लड़कियां

तब ये कहती हैं मुझे प्यार करो...भाग-अंतिम
आखिर क्यों नहीं रुक रहा जिस्मफरोशी का धंधा? क्यों नहीं सरकार इस पर रोक लगा पा रही है? क्यों नहीं इस मुद्दे पर कोई नेता आवाज उठाता है? क्योंकि इसके पीछे कई नेता भी प्रत्यक्ष रूप से जिम्मेवार हैं। कई नेताऒं को पत्नी के रहते भी चाहिए जींस वाली लड़की। वो भी कालेज गर्ल की तरह देखने में सुंदर, उनकी उम्र भी कम होनी चाहिए। कई नेता शादी के वक्त नेता नहीं रहते। उनके पास लाखों का धन भी नहीं होता। ये आम आदमी की तरह गरीब रहते हैं। वक्त के साथ चापलूसी कर जब ये नेता बन जाते हैं। फिर विधायक या उससे आगे। इसके बाद इनके पास करोड़ों रुपये एकाएक आ जाते हैं। आलीशान मकान व कई-कई एयरकंडीशन गाड़ियां भी। परंतु पत्नी तो देखने में साधारण और देहाती ही है। ऍसे में इनके लिये जींस वाली लड़की इनके साथ काम करने वाले लोग मुहैया कराते हैं। 2004 के लोकसभा चुनाव का मतगणना का काम चल रहा था। सीतामढ़ी में राजद प्रत्याशी सीताराम यादव व जदयू प्रत्याशी नवल किशोर राय मतगणना स्थल पर बैठे थे। वहीं, शिवहर के राजद प्रत्याशी सीताराम सिंह और भाजपा प्रत्याशी अनवारूल हक की नजरें भी मतों की गिनती पर थीं। अंतत: सीतामढ़ी से सीताराम यादव और शिवहर से सीताराम सिंह की जीत हो गयी। नवल किशोर राय और अनवारूल हक हार गये। इसी समय एक न्यूज चैनल पर आ रहा एक समाचार ने सभी को चौंका कर रख दिया। न्यूज चैनल यह दिखा रहा था कि नवल किशोर राय और अनवारूल हक किसी होटल के अलग-अलग कमरे में बैठे हैं जहां दो जींस वाली खूबसूरत लड़कियां प्रवेश करती हैं। इसके पश्चात दोनों लड़कियों से आलिंगन करते हैं, फिर आगे...! इस समाचार को पूरे भारत के लोगों ने देखा और सुना। जिस समय का यह सीन दिखाया जा रहा था, उस वक्त दोनों सांसद थे। नवल किशोर राय सीतामढ़ी के एमपी थे। वहीं, अनवारूल हक शिवहर के सांसद थे। यह बात जब सामने आयी तो अनवारूल हक ने यह बयान दिया कि वे मर्द हैं। उन्हें अपने किये पर कोई पछतावा नहीं है। दूसरी ओर नवल किशोर राय ने बयान दिया कि न्यूज चैनल की खबर में वे नहीं थे बल्कि उनका कोई हमशक्ल था। इसके बाद से दोनों नेताओं ने कोई चुनाव नहीं जीता जबकि ये कई बार चुनाव लड़े। यहां तक कि ये विधायक के चुनाव में भी ये बुरी तरह हारे। इस समाचार को जानने के बाद अंदाजा लगाया जा सकता है कि जब देश के सांसद जैसे महत्वपूर्ण पद पर बैठा कोई व्यक्ति इस तरह की हरकतों में शामिल हैं तो जिस्मफरोशी के धंधे पर कैसे रोक लगायी जा सकती है। समाप्त

3 टिप्‍पणियां:

  1. दुखद सत्य। ऐसे नेताओं से अच्छे की अपेक्षा की जा सकती है क्या?

    सादर
    श्यामल सुमन
    09955373288
    www.manoramsuman.blogspot.com
    shyamalsuman@gmail.com

    उत्तर देंहटाएं
  2. इन नेताओ का यही अंजाम होना भी चाहिए..

    उत्तर देंहटाएं